क्या जॉब के लिए आवेदन करते वक़्त आप रिज्यूम के साथ कवर लेटर देते है। कैसे बनाते है कवर लेटर ?

जब भी नयी जॉब का विज्ञापन देखते है तो उसके लिए हमे रिज्यूम देने के लिए कहा जाता है। हालाँकि नियोक्ता की तरफ से कवर लेटर (Cover Letter) की कोई डिमांड नहीं की जाती। और आम तौर पर ऐसा देखा जाता है की हम लोग या तो कवर लेटर (Cover Letter) इस्तेमाल ही नहीं करते या फिर एक ही कवर लेटर(Cover Letter) हर जॉब के लिए इस्तेमाल करते रहते है। मेरी राय में एक ही कवर लेटर (Cover Letter) इस्तेमाल करने की बजाय आप कवर लेटर न लगाये तो बेहतर है। क्योकि कई बार यह आपके लिए घातक हो सकता है।

क्या होता है कवर लेटर(Cover Letter) , क्यों जरुरी है कवर लेटर(Cover Letter) :

कवर लेटर को हम एक फिल्म का टीज़र भी सकते है , यह एक टीज़र की तरह काम करता है , जैसे टीज़र दर्शको को फिल्म को देखने के लिए आकर्षित करता है , वैसे ही कवर लेटर(Cover Letter) नियोक्ता को रिज्यूम पढ़ने के लिए आकर्षित करता है , कवर लेटर(Cover Letter) उस पहले अवसर की नींव रखता है, जिसके जरिए नियोक्ता आपकी कुशलताओं से परिचित होते हैं। कुछ पंक्तियों में लिखा एक छोटा आवेदन पत्र आपकी रोजगार संभावनाओं को बढ़ा सकता है। कवर लेटर आपके द्वारा लिखे गए आवेदन पत्र नौकरी की तलाश में पहली कड़ी होते हैं। एक दौर था जब जॉब हंटिंग के लिए कुछ निश्चित नियम या पैटर्न थे, लेकिन नौकरी के नए नियमों में इस प्रक्रिया का हर वह छोटे से छोटा हिस्सा भी शामिल है, जो आपको नियोक्ता के सामने अप्रत्यक्ष रूप से प्रस्तुत करता है।

अगर आपके Resume में है ये 5 बातें है तो वो बन जायेगा सुपरहिट

क्या होता है Infographic Resume ? इस नए अंदाज़ में कैसे बनाये अपना Resume

वास्तव में देखा जाये तो आपके रिज्यूम (resume) को पढ़ने वाले पर सबसे पहले कव्हर लेटर (cover letter) का ही प्रभाव पड़ता है क्योंकि आपको जाब प्रदान करने वाला आपके कवर लेटर को पढ़ने के बाद ही आपके रिज्यूम को पढ़ता है। अतः हमेशा ध्यान रखें कि कवर लेटर(Cover Letter) का बहुत अधिक महत्व होता है। आपके कव्हर लेटर को पढ़कर ही पढ़ने वाले को एक अंदाजा हो जाता है कि यह आदमी हमारे काम का है या नहीं।

कवर लेटर (Cover Letter) लिखते समय ध्यान देने वाली आवश्यक बातें :

  1. कवर लेटर हमेशा स्वयं के शब्दों में लिखें: स्वयं के शब्दों में लिखे गये कवर लेटर का अधिक प्रभाव पड़ता है। आपके लिखने की भाषा-शैली तथा ढंग पढ़ने वाले को बताते हैं कि आप किस प्रकार के व्यक्ति हैं। इसलिये अपना कवर लेटर किसी और से न लिखवाए। जहाँ तक संभव हो कॉपी पेस्ट का सहारा न ले।
  2. सम्बोधन का ध्यान रखे आपको पता होना चाहिए की आप जिसे अपना रिज्यूम भेज रहें है उसका पद (Designation ) क्या है। आपको अगर पद (Designation ) नहीं पता तो , आप हायरिंग मैनेजर (Hiring Manager ) शब्द का भी इस्तेमाल कर सकते है।
  3. आपका कवर लेटर (Cover Letter) अर्थपूर्ण और आपकी प्रोफाइल और खूबियों को प्रदर्शित करता हुआ संक्षिप्त ( Short ) शब्दों में लिखा होना चाहिए , कवर लेटर लिखते वक़्त स्पेलिंग ( Spelling ) और व्याकरण (Grammar ) का ध्यान रखें।
  4. अपना कवर लेटर जॉब की जरुरतो के अनुसार ही लिखे जिससे आपका महत्व प्रदर्शित हो। आपको यह भी बताना है कि नौकरी देने वाली संस्था के लिये आपका विशिष्ट महत्व है। आपको उन्हें बताना है की उक्त जॉब के लिए आप ही सही चुनाव साबित हो सकते है । किन्तु अपने विषय में अतिशयोक्ति न लिखे और न ही इतने विस्तार में लिखें कि पढ़ने वाला ऊब महसूस करने लगे।

उम्मीद है मेरा यह लेख आपको पसंद आया होगा। इसे शेयर करना न भूलें।

हमारी अगली पोस्ट ईमेल से प्राप्त करने के लिए email subscription जरुर ले ।


Comments

comments

loading...

- Apply This Job

Your Name (required)

Your Email (required)

Upload Resume (3mb max)

Your Message