ऑफिस में पुरुष भी होते है sexual harassment के शिकार

जब भी हम कार्य क्षेत्र में होने वाले यौन उत्पीडन (sexual harassment) की बात करते है, हमारे दिमाग में किसी स्त्री का ही विचार आता है | बहुत से ऐसे मामले सामने आते रहते है जहाँ आये दिन स्त्रियों को किसी न किसी तरीके से अपने ऑफिस या ऑफिस के बाहर यौन उत्पीडन (sexual harassment)  फेस करना पड़ता है |

लेकिन अगर आपको ये लगता है की सिर्फ महिलाऐं ही इस उत्पीड़न को झेलती है तो हम आपको ये बता दें कि ऑफिस में काम करने वाले पुरुषों को भी इस समस्या का सामना करना पड़ता है | हमारी सोसाइटी जहाँ female sexual harassment का मुखर विरोध करती है, वहीँ यही समाज Male sexual harassment पर चुप्पी साध लेता है | अधिकतर लोगों को ये बात पचती ही नहीं की कैसे किसी पुरुष के सामने इस तरह की दिक्कत आ सकती है | इसलिए अधिकतर पुरुष ऐसे किसी incident के बारें में किसी को बताते ही नहीं |

Image Credit: internetmarketconsulting.com

हमारे समाज ही नहीं बल्कि हमारे लीगल सिस्टम ने भी पुरुषों के साथ होने वाले शारीरिक उत्पीडन को ignore किया है | महिलों के लिए अपने साथ हुए यौन उत्पीडन के विषय में बात करना बेहद मुश्किल होता है. लेकिन पुरुष तो इस विषय में बात भी नहीं कर पातें. कई बार तो उनकी खुद की फॅमिली उन्हें चुप करा देती है.

आपको आज ऐसे ही एक व्यक्ति के अनुभव से हम अवगत करा रहे है, जिसने ऑफिस में अपनी बॉस के द्वारा sexual harassment का शिकार बनना पड़ा. एक व्यक्ति ने अपना नाम disclose न करने की शर्त पर बताया कि उसने 2010 में  एक consultancy फर्म ज्वाइन की जिसे दिशा (काल्पनिक नाम) की लेडी चलाती थी. वह व्यक्ति उस  कंसल्टेंसी का पहला एम्प्लोयी था. दिशा अपना अधिकतर समय उसके साथ spend करने की कोशिश करती थी. जिसे उस व्यक्ति ने पहला एम्प्लोयी होने के कारण ignore कर दिया.

एक दिन ऑफिस में देर तक काम करते समय दिशा ने उस व्यक्ति को बोला कि वह उसे बहुत पसंद करती है लेकिन उस व्यक्ति ने अपनी boss को बोला कि वो interested नहीं है, ऐसा कहने के पीछे एक कारण यह भी था कि वो अपनी boss के साथ किसी तरह के रिलेशन में नहीं रहना चाहता था. उसके बाद एक और घटना का जिक्र करते हुए उस व्यक्ति ने बताया, एक दिन देर तक काम करने के दौरान उसकी बॉस उसके पास आये और कहा, “why i am  paying you  if you are  being mean to me.” इस घटना के बाद उस व्यक्ति ने जॉब छोड़ दी और इस इंटरव्यू के वक्त तक वो नयी जॉब की तलाश में था.

As told to Caroline D’Cruz
Source:Times of India

ये भी पढ़े >> Workplace पर हो छेड़ छाड़ तो ऐसे बजाये मनचलों की बैंड

यहीं गौर करने लायक ये बात भी है कि पुरुष कार्यस्थल पर उसकी फीमेल बॉस तो harass कर सकती है वो अपने Male बॉस के द्वारा भी sexual harassment का शिकार बन सकते है | ऐसे में पुरुष एम्प्लाइज के लिए किसी मजबूत कानून की अनुपस्थिथि विक्टिम को कमजोर और गिल्टी को मज़बूत बना देती है |

जब हम gender equality की बात करते है तो हमें भी समझना होगा कि सिर्फ महिलाऐं ही नहीं पुरुषो को भी sexual harassment जैसी समस्या को फेस करना पड़ता है | और इस बात को सामाजिक व न्यायिक दोनों ही रूप से स्वीकार करने की आवश्यता है.

 


Comments

comments

loading...

- Apply This Job

Your Name (required)

Your Email (required)

Upload Resume (3mb max)

Your Message