सभी बड़े नामों को पिछाड कर पंतजलि(Patanjali) बनी भारत का सबसे लोकप्रिय ब्रांड

भले ही बाबा रामदेव किसी बिज़नस स्कूल से MBA पास आउट न हो लेकिन उनके द्वारा बनाये गये पंतजलि (Patanjali) के उत्पादों ने कई बड़ी बड़ी कंपनियों को मात दे दी है |

Trust Reserved advisory (TRA)  द्वारा किये गये एक सर्वे से ये परिणाम सामने आये है | पंतजलि (Patanjali) ने काफी समय से भारत में सबसे लोकप्रिय कंपनी HUL  (Hindustan Unilever ) को पछाड़ कर लोकप्रियता में पहला स्थान पा लिया है | TRA के इस सर्वे में भारत की सबसे लोकप्रिय कंपनियों में पंतजलि (Patanjali) , HUL, निरमा, इमामी व P&G का नाम आया है |

TRA ने ये सर्वे 16 शहरों के लगभग 3000 उपभोक्ताओं पर किया | इस सर्वे से एक और रिजल्ट बहुत हैरानी भरा सामने आया और वो था टाटा कंपनी का लोकप्रियता के नीचे पायदानों की और खिसकना | टाटा कंपनी पिछले वर्ष लोकप्रियता के हिसाब से चौथे नंबर पर थी| इस वर्ष टाटा की लोकप्रियता घटकर देश में सातवें नंबर पर पहुँच गयी है | चूँकि ये सर्वे साइरस मिस्त्री के टाटा छोड़ने से पहले लिया गया था इसीलिये हम ये नहीं मान सकते कि  साइरस मिस्त्री व टाटा ग्रुप के बीच के तनाव का उपभोक्ताओं पर ये प्रभाव पड़ा है |

Image Credit : Hindi News

 

ये भी पढ़े >>पंतजलि की चुनोती के आगे Dabur ने बदली अपनी रणनीति

FMCG सेक्टर की लोकप्रियता में जहाँ भारतीय कंपनियों का बोलबाला दिखा| वहीँ इलेक्ट्रॉनिक कंपनियों की लोकप्रियता में पहला स्थान साउथ  कोरियन कंपनी LG को मिला | भारत के most attractive ब्रांड्स की लिस्ट में लग ने प्रथम स्थान पाया |  इस श्रेणी के पहले तीनो पायदानों पर विदेशी कंपनियों ने अपना परचम लहराया | पहले नंबर पर LG के बाद दूसरा नंबर SONY को मिला और तीसरें नंबर पर Samsung को सबसे अधिक लोकप्रिय पाया गया पिछले वर्ष LG दुसरे स्थान पर थी |

ये भी पढ़े >> देश की सुपरहिट Business जोड़ी से सीखे सफलता के सूत्र

इस लिस्ट में कुल 156 रैंक थी | फेमस भारतीय कंपनी अमूल को 32वां स्थान मिला | इसके अलावा लोकप्रियता के अनुसार बजाज को 6th, मारुती सुजुकी को 8th व एयरटेल को 9th रैंक मिली |

ये सभी आंकड़े TRA (Trust Reserved advisory) द्वारा किये गये सर्वेक्षण पर आधारित है |


Comments

comments

loading...

- Apply This Job

Your Name (required)

Your Email (required)

Upload Resume (3mb max)

Your Message