आप नई नौकरी पाने लिए कोशिश करते है पर बात नहीं बनती : क्या है कारण ?

आप काफी समय से नई जॉब पाने की कोशिश कर रहे है। आपके पास अच्छा अनुभव है , बेहतरीन स्किल है , नयी तकनीक की जानकारी है , आपको लोगो को हैंडल (People Handling ) करने का गुर पता है। पर ऐसा क्या होता है जो आपका आवेदन (application ) इंटरव्यू में नहीं बदल पाता। आपको भी लगता होगा आप ऐसा क्या गलत कर रहे हो या आपसे ऐसा क्या नहीं हो रहा जो आपको जॉब कॉल नहीं आ रहे। या जो आ भी रहे है वो आपके काम के नहीं है।हम आपको कुछ ऐसी ही गलतियाँ बतायेगे जो अक्सर लोग दोहराते है ,और वो उनके करियर में रोड़ा बन जाता है।

एक अच्छे रिज्यूम का न होना :

क्या होता है रिज्यूम ? रिज्यूम होता तो 2 -3 पेज का ,पर सबसे पहले ये ही आपका प्रतिनिधित्व( represent ) करता है। तो क्या आपका रिज्यूम आपकी पूरी क्षमताओ का वर्णन करने में सक्षम है या नहीं। और आप अपना रिज्यूम जिस जॉब के लिए भेज रहे है क्या वो उस जॉब की प्रोफाइल से मिलता है या नहीं। जब आपका प्रोफाइल उस जॉब से नहीं मिलता तो ,आपका आवेदन रद्द हो जाता है। और बार बार ऐसा होने से लोग निष्क्रिय हो जाते है। अतः आपको जॉब के लिए आवेदन करते वक्त अपना रिज्यूम जरूर चेक करना चाहिए। आपको अपने जॉब प्रोफाइल में ज्यादा से ज्यादा सटीक शब्दों (keywords ) का इस्तेमाल करना चाहिए। और रिज्यूम को अपडेट करते रहना चाहिए

कैसे बनाये एक बढ़िया (Resume)रिज्यूम जो आपको जॉब दिलवाने में सहायता करेगा।

स्वयं का नेटवर्क कमजोर होना :

अक्सर हम जॉब चेंज के लिए जॉब साइट्स पर ही निर्भर रहते है,पर क्या आपको पता है जॉब साइट्स पर जॉब बाद में डाली जाती है , उदाहरण के तौर पर सभी कम्पनीया एक सप्ताह बाद ही जॉब को वेबसाइट पर डालती है। तो हमे चाहिए की हम अपने खुद के नेटवर्क में सक्रीय (active ) रहे , इस नेटवर्क में आपके कंसलटेंट ,आपके सामान्य स्तर के लोग , आपके जूनियर , या आपके सीनियर सभी रहते है। क्योकि जब आपका रिज्यूम किसी जानकार के द्वारा भेजा जाता है तो उसे ज्यादा महत्व भी मिलता है। अतः आपको सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर सक्रीय रहना चाहिए। और भी इस तरह की गतिविधियों में भाग लेना चाहिए।

क्या आप अपने Social Media अकाउंट का सही प्रयोग करते है ?

नेटवर्क में बढ़ोतरी न कर पाना :

हमें लगातार अपने नेटवर्क में बढ़ोतरी करनी चाहिए जिससे हमें नयी जानकारिया मिलती रहे , जैसे आपको किसी ऐसी कंपनी के कल्चर का पता करना है , या आपको किसी दूर की जगह आपकी कंपनी में जॉब चाहिए पर कोई रेफरेन्स (refrence ) नहीं मिल रहा तो उस वक़्त ये नए दोस्त काम आते है। आपके पुराने दोस्त अमूमन आपके ही क्षेत्र से होते है ,तो वो आपको नयी जगह नयी कंपनी की जानकारी नहीं दे पाते। इसलिए आपको अपने नेटवर्क में बढ़ोतरी करनी चाहिए। इसके अच्छे परिणाम मिलेंगे।

image : career-hack.com

रिक्रूटर को अच्छा रिस्पांस न देना :

हम अक्सर एक गलती कर जाते है जब हमे जॉब के लिए कॉल हम उसे कुछ ऐसा व्यवहार करते है जिससे हमारा प्रभाव (impression ) नकारात्मक हो जाता है। उदाहरण के तौर पर लोग सबसे पहले सैलरी पूछते है। या कुछ लोग पद या स्तर (designation ) को लेकर वाद विवाद में पड़ जाते है। ये अच्छा संकेत नहीं है। आपको सबसे पहले कंपनी फिर जॉब प्रोफाइल , रिपोर्टिंग इत्यादि के बारे में पूछना चाहिए। आपको जॉब प्रोफाइल (job Description ) मांगना चाहिए। और जब आपको JD मिल जाये तो उसपर रिस्पांस करना चाहिए। रिक्रूटर (Recruiter ) से लगातार संवाद करना चाहिए। कंपनी ढांचे (structure ) को समझना चाहिए। उसके बाद ही फैसला लेना चाहिए की आप आवेदन (apply ) करना चाहते है या नहीं। और रिक्रूटर (Recruiter ) को बढ़िया से रिस्पांस देना चाहिए जिससे आपके और उसके सम्बन्ध बेहतर बने। क्योकि ये रिक्रूटर (Recruiter ) आपके प्रतिनिधि के तौर पर काम करते है

सामान्य जॉब इंटरव्यू तरह ही महत्वपूर्ण है टेलीफोनिक इंटरव्यू : कैसे करे तैयारी पढ़े ये टिप्स

उम्मीद है इन जानकारियो को पढ़ने के के बाद आपको इस समस्या के हल में काफी मदद मिलेगी। अगर आपका कोई भी सवाल है तो हमे कमेंट में लिखे।
इस जानकारी को अपने दोस्तों से शेयर कीजिये। बाँटने से ज्ञान बढ़ता है।

 


Comments

comments

loading...

- Apply This Job

Your Name (required)

Your Email (required)

Upload Resume (3mb max)

Your Message