एग्रो इंडस्ट्री : कैसे लगाये टोमेटो सॉस की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट

भारत में टमाटर एक ऐसी फसल हैं जो देश के हर भाग में होती हैं. उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र , कर्नाटक , मध्य प्रदेश ,आंध्र प्रदेश, उडीसा व पश्चिम बंगाल में भी टमाटर की खेती की जाती हैं. यहीं कारण हैं कि देश में टमाटर प्रोसेसिंग इंडस्ट्री काफी तेजी से बढ़ रही हैं. पारम्परिक रूप से टमाटरों का प्रयोग सलाद, सब्जी आदि में होता हैं लेकिन अब टमाटरों का प्रयोग केचप  व टमाटर की प्यूरी आदि में भी बहुत होने लगा हैं.

कैसी है टमाटर प्रोसेसिंग इंडस्ट्री की हालत

भारत में टमाटर प्रोसेसिंग इंडस्ट्री की मार्किट प्रतिवर्ष 20% की ग्रोथ रेट से बढ़ रही हैं. इस लिहाज़ से अगर देखे तो टमाटर प्रोसेसिंग इंडस्ट्री में काफी ग्रोथ हैं. भारत में टमाटो सौस की मांग भी काफे बढ़ रही हैं. अब आधुनिक पैकिंग आने के कारण  बने हुए  टमाटो सौस व अन्य खाद्य पदार्थो की आयु भी बढ़ गयी हैं. साथ ही अब इनकी पैकिंग का खर्चा भी कम आने लगा हैं. इसलिए कुल मिलाकर इस इंडस्ट्री में काफी संभावनाएं हैं.

टमाटो प्रोसेसिंग यूनिट भारत में काफी बड़े स्तर पर नहीं हैं, कुछ एक नामों को अगर छोड़ दें तो टमाटर प्रोसेसिंग यूनिट काफी लेकिन छोटे पैमाने पर अपना काम कर रही हैं. घरेलु मार्किट के अलावा प्रोसेस्ड टमाटरों की मिडिल ईस्ट के देशों में भी काफी मांग हैं.

tomato processing unit

मसाला उद्योग में है अच्छी कमाई का अवसर , जानें कैसे शुरू करें मसाले की यूनिट

कम पूंजी से शुरू हो सकता है अगरबत्ती (Agarbatti) का उद्योग , होगी मोटी कमाई

छोटे स्केल पर कैसे शुरू करें टमाटर प्रोसेसिंग यूनिट

अगर आप टमाटर प्रोसेसिंग यूनिट छोटे स्केल पर शुरू करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले विभिन्न डिपार्टमेंट से ये रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस लेने होंगे.

  1. सबसे पहले अपनी फर्म को ROC में रजिस्टर करना होगा.
  2. लोकल अथॉरिटी से ट्रेड लाइसेंस लेने के अप्लाई करना होगा.
  3. सभी प्रकार के पैसों के लेन देन  के लिए करंट अकाउंट खुलवाना भी जरूरी हैं.
  4. FSSAI का लाइसेंस होना भी जरूरी हैं साथ ही GST रजिस्ट्रेशन के लिए भी अप्लाई कर दें.
  5. जिस प्रकार की आप यूनिट लगा रहे हैं उसके लिए BIS सर्टिफिकेशन के लिए भी अप्लाई कर दें. अलग काम के लिए अलग सर्टिफिकेट की आवश्यता होती हैं. जैसे : Tomato Puree के लिए IS 3883 : 1966, Tomato Juice के लिए IS 3881 : 1966 और Tomato Ketchup के लिए IS 3882 : 1966 सर्टिफिकेट की जरूरत होती हैं.
  6. साथ ही आपको state Pollution Control Department से NOC लेने के लिए भी अप्लाई केर देना चाहिए. हालाँकि ऐसी यूनिट किसी प्रकार का प्रदूषण नहीं फैलती लेकिन फिर भी NOC आवश्यक हैं.

 

 छोटे स्केल पर टमाटर प्रोसेसिंग यूनिट से आप क्या काम कर सकते हैं

  • केचप के लिए टमाटर प्रोसेसिंग यूनिट
  • प्यूरी के लिए टमाटर प्रोसेसिंग यूनिट   
  • सौस के लिए टमाटर प्रोसेसिंग यूनिट
  • पल्प के लिए टमाटर प्रोसेसिंग यूनिट

 

 

 


Comments

comments

loading...

- Apply This Job

Your Name (required)

Your Email (required)

Upload Resume (3mb max)

Your Message